Non Veg Shayari | Naughty shayari | नॉन वेज शायरी

non veg shayari – आज हम आप सभी के लिए non veg shayari लेकर आए हैं

ये naughty shayari आप सभी को बहुत पसंद आएगी क्योकि ये सबसे naughty shayaria हैं

दोस्तो ये शायरी अपनी girlfriends, boyfriends, husband ओर wife को भी send कर सकते हैं

बदमाशी स्टेटस एक तरफा प्यार
Misunderstanding Quotes Intezaar Quotes in Hindi
Hot sexy shayari Breakup Shayari

 

non veg shayari in hindi

चुद चुद कर तू रान्ड हो गयी
चबूतरे से बडी तेरी गान्ड़ हो गयी।
थोड़ा और चोद लूं बस यही ठानी है मैंने,
ऐ जिंदगी थोड़ा रुक जा अभी हार कहा मानी है मैंने।

 

उसका कहना सही था
जब तुम मुझे चोद के छोड़ सकते हो तो
मैं भी तुम्हे छोड़ के चुदवा सकती हूँ।

 

लन्ड देना है दान में,
कोई भाभी है क्या ध्यान में।
कहना चाहते थे उनसे दिल की बात,
उससे पहले ही चूसा दिया अपना उस्ताद।

 

वैसे दर्द तो उसको भी हुआ होगा,
जब छोटे से छेद में बम्बू गया होगा।

 

में भी राजनीति में पाँव रखने वाला था, पर किसी ने
मेरी चप्पल चुरा ली इसलिए अब शायरी पेलता हूं…

 

निगाहों से निगाहें मिला कर तो देखो,
कभी किसी लड़की को पटा कर तो देखो,
हसरतें दिल में दबाने से क्या फायदा,
अपने हाथों से ज़रा दबा कर तो देखो,
आसमान सिमट जाएगा तुम्हारे आगोश में,
लड़की की टांगें फैला कर तो देखो,
अगर ये न कर सको तो हार मत मानना,
दो बूँदें तो ज़रूर गिरेंगी,
यारों ज़रा अपने [email protected] को हिला कर तो देखो।

 

वो हमारी कबर पे चले गए मूत के,
चलो इसी बहाने दर्शन हो गए Chuutt के,
हैरलेस थी उनकी चिकनी Chuutt,
लेकिन अब क्या फायदा जब हम बन गए भूत।

 

non veg shayari for friends

दोस्त Butts की तरह होते है
उनके बीच में [email protected]@Ti जैसी मुसीबते आ सकती है
मगर फिर भी वो चिपके रहते है

 

ना तीर ना तलवार
अगर मुझसे है प्यार तो खोल अपनी सलवार
मेरा शस्त्र है तैयार
होऊंगा तुझपे सवार
जल्दी से अपनी चढ़ी उतार
तेरी भरनी है दरार

 

दिलबर के हमने प्यार से जो B00b दबा दिए
ज़रा गौर फरमाइए
दिलबर के हमने प्यार से जो B00b दबा दिए
बहन की L0di ने लात मार के हमारे G0te सुजा दिए

 

जो ख़ुशी से करने दे उसे करने से पाप नहीं होता
कुवारी हो तो L~#D ख़राब नहीं होता
हमेशा C0nd0m लगा के करना मेरे दोस्त
क्युकी L~#D के पास दिमाग नहीं होता

 

अर्ज़ किया है…
बड़ी हसरत थी की खोलू उनकी सलवार का नाड़ा,
सनम की बेरुखी तो देखो के वो [email protected] ही चले आये

 

लड़का लड़की से –
जुबा पे जब भी तेरा नाम आता है
ये हाथ नीचे चला जाता है
तुझे पाने के लिए कुछ भी कर जाऊंगा
एक बार देदे वरना “हिला हिला” के मर जाऊंगा

 

अधूरा सा लगता है…
जब बादल हो और मगर बारिश ना हो
जब जिंदगी हो और उसमे प्यार ना हो
आंखें हो मगर उनमे ख्वाब ना हो
जब तन के खड़ा हो और पास में जुगाड़ ना हो

 

funny non veg shayari

तूफानों में छाता नहीं खुलता,
बुरे से पहले जाँघिया नहीं खुलती,
v यजरा खाना शुरू करो मेरे दोस्त,
खाली उँगलियों और जुबान से लड़की नहीं फैलती। . .

 

जैसे ही वह गली से गुजरा, उसने अपना चतुर्भुज देखा,
वाह् भई वाह ,
जैसे ही वह गली से गुजरा, उसने अपना चतुर्भुज देखा,
उसकी माँ वहाँ खड़ी थी और मुझे देख कर बोली,
गोंड तोरे भोसडिके जो फिर से प्रकट हुए। . . .

 

देख कुछ सितारे बन गए,
जब उन्होंने इसे देखा, तो आकाश बादल रहित हो गया।
नदी तट बनते देख,
और तेरे कामों को देखकर निरुदा का कारखाना बन गया। . . .

 

पीछे मुड़कर देखें तो हमारी भी क्रूर इच्छाएं होती हैं
खूबसूरती रखोगे तो यौवन भी रखेंगे
गहराई रखते हो तो हम लंबाई भी रखते हैं

 

२ इंच गहराई २ मिनट मज़ा
2 बूंद गिरने पर 9 महीने की सजा।

 

जिस घर में शांति रहती है
पट्टी पाटनी दोनों गुटखा खाते हैं।

 

दर्द होता है दर्द होने दो
रात हो गई, चलो सब हो

 

बच्चे सो जायेंगे, हम हंगामा करेंगे।
तुम पीछे हो और पांच गुना दर्द होगा

 

मेरा दोस्त शादीशुदा है वह कुछ नहीं जानता,
मैं उनके घर गया और उन्हें प्रैक्टिकल दिखाया

 

fadu non veg shayari in hindi

मैं लिख दू तुम्हारी उम्र चाँद सितारों से
तुम आये मेरी जिंदगी मे फूल बहारों से
कहती थी बाबू पहली बार है,
और चुद चुकी थी मादरचोद हजारो से.?

 

आज फिर उनका दिल दुख दिया हमने,
देकर Ice Cream का नाम अँधेरे में फिर
से [email protected] चूसा दिया हमने.!

 

तन्हाई में भी हमे भी जीना आता है,
सेक्स करके हमको भी पसीना आता है,
एक हम ही है जो तुम्हे अक्सर मैसेज करते रहते हैं,
और एक तुम्हारा मैसेज है, जैसे औरतों को महीना आता है.!

 

कुंवारी लड़की ना चोदिये
चुद के करे घमंड,
चुदी चुदाई चोदिये,
जो लपक के लेवे लंड.!

 

ना वो मुझे जानती थी नही मै उसे जनता था,
बस रेट की बात हुई और काम हो गया.!

 

हम उस बेवफा से दिल लगा बैठे
खली फोकट अपनी सुकून की माँ-बहिन एक करवा बैठे
वो तो चुप-चाप सो गई किसी के बिस्तर पे जाके
हम [email protected] अपनी ही [email protected] में आग लगा बैठे

 

यार अजब तेरे नखरे, गज़ब तेरा स्टाइल हैं
Ga#D धोने की तमीज नहीं, हाथ में मोबाइल है

 

इश्क़ अगर है तुम्हें तो तो इज़हार कर दो दुनिया के सामने
वार्ना जो हमने खंडरो के पीछे किया उसे दुनिया Chhuuddaaii कहती है

 

गली से जब उनकी गुज़रे तो, उनका चोबारा नज़र आया
वाह वाह
गली से जब उनकी गुज़रे तो, उनका चोबारा नज़र आया
उसकी माँ खड़ी थी वहा पे और देख के मुझको बोली
[email protected]@Nd फाड़ दूंगी Bh0sdike जो दुबारा नज़र आया

 

non veg shayari in hindi for girlfriend

हम उस बेवफा से दिल लगा बैठे,
खली फोकट अपनी सुकून की माँ-बहिन एक करवा बैठे,
वो तो चुप-चाप सो गई किसी के बिस्तर पे जाके,
हम [email protected] अपनी ही [email protected] में आग लगा बैठे।

 

तूफानों में छतरी नहीं खोली जाती,
[email protected] से पहले [email protected] नहीं खोली जाती,
वियाग्रा खाना शुरू कर दे मेरे दोस्त,
खाली ऊँगली और जुबान से लड़की नहीं Ch0di जाती।

 

तन्हाई में भी हमे भी जीना आता है
सेक्स करके हमको भी पसीना आता है
एक हम ही है जो तुम्हे अक्सर मैसेज करते रहते हैं
और एक तुम्हारा मैसेज है, जैसे औरतों को महीना आता है

 

हम दिलफेक आशिक़ है, हर काम में कमाल कर दे
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे
क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की
हम चूम-चूम के ही होंठ उसके लाल कर दे

 

काश ऐसी गर्लफ्रेंड मिले जो कहे
उडास क्यूं रहते हो तनहा शम की तराह
वाह वाह
उदास क्यूं रहते हो तनहा शम की तराह
आओ मेरी बहनों में सनम करो प्यार पियासो की तराह

 

रोये हम इस कदर उनके सीने से लिपट कर;
वाह वाह!
रोये हम इस कदर उनके सीने से लिपट कर;
कि वोह खुद अपनी कमीज़ उतारकर बोली;
ले चूस ले कमीने, फालतू में नाटक मत कर!

 

क्या कशिश थी उस की आँखों में मत पूछो;
मुझ से मेरा दिल लड़ पड़ा मुझे यही चूत चाहिए।

 

किसी ने सही फ़रमाया है,
ना चोदो किसी को इतना कि उसकी चूत तुम्हारी कमजोरी बन जाये;
उसे चोदो कुछ इस तरह कि तुम्हारा लंड उसके लिए जरूरी बन जाये।

 

कितना अधूरा लगता है…जब बादल हो और बारीश ना हो;
जब जिंदगी हो और प्यार ना हो;
आंखें हो पर ख्वाब ना हो;
जब खड़ा हो और जुगाड़ ना हो।

 

2 line non veg shayari

हे मेरी चुलबुली तेरे संतरे रहते है तंग,
तेरा BF है CHμ[email protected] चल मेरे संग।

 

चाहिए मुझे अब किसी का साथ,
क्यों कि अब थक चुका है मेरा हाथ।

 

अरे, ऊपर वाला तो जोड़ी बनावे,
घोड़ी तो नीचे वाले ही बनावे।

 

उस लड़की का नाम भी कोमल है…
जो बेड पे [email protected]@rder चिल्लाती है।

 

ब्रेकअप तो बस एक बहाना है,
उसे तो किसी और से ठुकवाना है।

 

वैसे दर्द तो उसको भी हुआ,
होगा जब छोटे से छेद में बम्बू गया होगा।

 

मोह्बत के रिश्ते को कब तक निभाउंगा,
दबाने आया था CH0D के भी जाऊंगा।

 

उड़ती हुई चील और टुटी हुई सील,
कभी आवाज़ नही करती।

 

इन्सान की इच्छाएं भी अजीब है,
घर बड़ा चाहिए और *CHμT छोटी…

 

दिन मे सन, रात मे तारे है,
जीतने भी मेरे यार है, *CHμ[email protected] सारे है।

 

दो पल की जिंदगी है, तुम सारे फिक्र भुला दो,
अगले पल का क्या भरोसा, तुम अभी [email protected] दो।

 

ना चाहिए पैसा, ना चाहिए प्यार,
बस चाहिए तो तेरे जैसा BHØSD! वाला यार।

 

मेरे हवस के कौवे को मोहब्बत की रोटी खिला दो..
चलो बहुत पढ़ ली शायरी, अब आके मेरा हिला दो।

 

अबे सुन एक दिन मर जायेगा कुत्ते की मौत
और लोग कहेंगे मर गया [email protected]@RCHØD .

 

ख्वाबों को अपने हकीकत से मिलाता हूँ,
हाँ मैं हिलाता हुँ।

 

नज़र लग गई ज़माने की‚
जगह नही मिल रही बजाने की।

 

क्यों न आज [email protected] को फिर बेवकूफ बनाया जाए,
नंगी फिल्मे देख कर शिद्दत से [email protected] हिलाया जाये।

 

insulting non veg shayari for friends in hindi

हम मरते हुए फूलों को पानी देते हैं
खोलो, आओ जब उनकी याद
तो तस्वीरें देख कर भी कांप उठती है.

 

हमें इस बेवफा से प्यार हो गया
खाली फुकत बैठ गई उसकी शांति की कड़वी कड़वाहट,
वह चुपचाप सो गई और किसी के बिस्तर पर चली गई।
हमने पूरे साल अपने ही जुंटा में आग लगा दी।

 

पलट क देख ज़ालिम, तमन्ना हम भी रखते हैं
हुस्न तुम रखती हो तो, जवानी हम भी रखते हैं
गहराई तुम रखती हो तो, लम्बाई हम भी रखते हैं

 

ठण्ड में आपको दंड दे रहा हूँ
गिफ्ट में आपको [email protected] दे रहा हूँ
डाल लेना ईसे [email protected]@Nd में अपनी
आपको दोस्ती की “सौगंध” दे रहा हूँ

 

जवानी के दिल चमकीले हो गये,
हुस्न के तेवर नुकीले हो गये,
इधर हम प्यार के चक्कर मे रह गये,
उधर उसके होल ढीले हो गये ।।

 

खुद को जीतने की जिद्द है मुझे
खुद को ही हराना है,
कल चार बार हिलाया था
आज पाँच बार हिलाना है।

 

मै [email protected] रखता हु लोहे जैसा,
[email protected] चाहिये तो तू दे पैसा ,
मै लड़कियों के *CHμT में पैसा खर्चा नहीं करता,
तू मुझे मत समझ ऐसा वैसा .

 

जिस दिन से उनसे दिल लगा बैठे,
तनहाई मे सुकून की माँ CHμ[email protected] बैठे,
वो तो खो गई किसी और के प्यार मे,
हम अपने [email protected] मे आग लगा बैठे ।

 

कुत्ते को मूतने के लिए,
और लड़की को CHμDNⓔ के लिए,
टांग उठानी ही पड़ती है।

 

non veg jokes shayari

डब्बे मे डब्बा, डब्बे मे केक,
तू CHμ[email protected] है मेरे दोस्त,
जरा आईने में तो देख ।

 

अरे हमे अपने लूटा, गैरों मे कहाँ दम था,
और ये हमारा दोस्त इतना बढ़िया है,
की हमे जब जब दी तब तब हमारा मन था।

 

दिल मे जो भी था वो बह गया बाड़ में,
अगर फोन नही उठा सकते ना,
तो डाल लो उसे अपने [email protected]@ND में ।

 

मासूम सी *CHμT है तेरी,
पर तेरी शौक भारी है,
प्यार का नाटक मेरे साथ,
पर कइयो ने तेरी *CHμT मारी है.

 

वाह रे *CHμT की परी,
तुझे अपनी खूबसूरती पे इतना घमंड,
सब हेकड़ी निकल जायेगी,
एक बार लेके तो देख मेरी [email protected]

 

मत चला नैनो से तीर,
मैं बाबा ना कोई पीर,
तू मेरी महारानी और,
मै तेरी *CHμT का फकीर।

 

सच्चा प्यार वो नहीं जिस में दिल टूट जाये,
सच्चा प्यार वो है जिस में पलंग टूट जाये!

 

गर्दिश मे है सितारे [email protected]@ND मारलो हमारे,
जब बहारें चमन मे होंगी [email protected]@ CHØDⓔNGⓔ तुम्हारे।

 

कोई भी आदमी छोटा या बड़ा नहीं होता,
आदमी का छोटा या बड़ा हो सकता है।

 

जिंदगी मे एक बार भरोसे का BHØ[email protected] हो जाये ना,
तो हर भरोसे वाला BHØSD! वाला ही लगता है ।

 

लड़की पटाना बाएं हाथ का खेल है,
और अगर नहीं पटी तो दायें हाथ का खेल है।

 

जैसे घर वाली की बहन को बोलते हैं, साली,
दोस्त को देखो तो मुह से निकलती है गाली।

 

चक्कर मे जिसके हमने किये थे इतने कांड,
बाबू सोना कह के छिनाल मार गयी हमारी [email protected]@ND

 

non veg shayari for girlfriend in hindi

ना तो है कोई GF, ना तो कोई माल है,
बस हिला हिला कर, हुआ बुरा हाल है।

 

उस लड़की का दिल कभी
ना तोडना जो बेचारी
कमरे में गद्दा ना हो तो
फर्श पे देने को तैयार हो जाये।

 

बहुत बुरा लगता है, जब बादल हो पर बारिश ना हो,
जिंदगी हो लेकिन, प्यार ना हो,
आँखें हो लेकिन ख्वाब ना हो,
और जब खड़ा हो , तब जुगाड़ ना हो।

 

हम निडर बच्चे है, डरते नहीं, आप हमे मत डराइए,
इग्ज़ैम हाल मे टीचर जब इधर उधर घूम रहा होता है ना,
तब हमारे दिल से यही आवाज निकलती है,
कहीं और जा के अपनी [email protected]@ND मराइए ।

 

सबसे अच्छे से बात करता हूं,
किसी को किसी की चुगली करना नहीं सिखाया हमने,
जो जलता है उसकी [email protected]@ND जलती रहे,
किसी के CHμ[email protected] के नीचे HITER नहीं लगाया हमने ।

 

अब तो [email protected]@[email protected] भी कहने लगा है मुझसे,
मालिक पूरी जिंदगी हाथ से ही हिलाओगे,
या कभी CHμT* से ही मिअलोगे।

 

तू मत समझ मुझे कमजोर एक झटके में सुधार दूंगा,
मेरा [email protected] एक बार लेके तो देख,
तेरे *CHμT का नक्शा बिगाड़ दूंगा.

 

मुझे नहीं पता प्यार क्या होता है
बस इसे याद करो
और यह खड़ा है।

 

राकेट, तकदीर और औरत का CHμT*,
आदमी को कहीं भी ले जा सकते हैं।

 

non veg Shayari in english

You got randy by kissing
Your ass became bigger than the platform.
Let me fuck a little more, that’s all I have decided,
O life, stop for a bit, now I have given up.

 

he was right
when you can leave me
I can kiss you too.

 

Lund is to be donated to charity,
Is there any sister-in-law in mind?
Wanted to say heart to him,
Even before that he sucked his master.

 

Well, the pain must have happened to him too.
When the bamboo would have gone into the small hole.

 

I was also about to enter politics, but someone
Stole my sandal, so now I write poetry…

 

If you meet your eyes and see,
If you ever hit a girl, then look,
What is the use of suppressing laughter in the heart,
Just press it with your hands and see,
The sky will shrink in your lap,
Look at the girl spreading her legs.
If you can’t do this, don’t give up.
Two drops will surely fall,
Guys, just shake your [email protected] and see.

 

They went to our grave
Let’s have darshan of Chuutt on this pretext,
His smooth Chuutt was hairless,
But what is the use now when we have become ghosts.

 

best non veg shayari

अभिमान किसी को ऊपर उठने नही देता और
स्वाभिमान किसी को निचे झुकने नही देता।।

 

लड़की ढूंढनी होती तो कबकी ढूँढ लेते
हम तो बादशाह है रानी ही ढूढेंगे।।

 

सिलवटें ही सिलवटें थी बिस्तर पर सुबह
यादों की करवटें ही करवटें थी रात भर।।

 

उसने देखा ही नही अपनी हतेली को गोर से कभी
उसमे धुंदली सी एक लकीर मेरे नाम की थी।।

 

सुनो तुम चाय अच्छी बनाती हो पर
मुंह बनाने मे भी तुम्हारा कोई जवाब नही।।

 

औकात नहीं है दुश्मनो की आँख से आँख मिलाने की
और साले बात करते है घर से उठाने की।।

 

कमाई छोटी या बड़ी हो सकती है
पर रोटी तो सब घर में एक जैसी ही होती है।।

 

मौत‬ से बचने का सबसे शानदार तरीका
लोगों के दिलों में ‪‎जिंदा‬ रहना सीख लो।।

 

मेरे आँसुओ की गवाही ना लेना
तेरे ज़ुल्मो की कहानी बिखर जायेगी।

 

माना कि अब तो मुझे मुहब्बत नहीं करती
लेकिन अब भी तू हमारी गली से गुजर जाए तो लोग कहते हे
के ये देखो भाई का माल जा रहा है।।

 

मैं लिखता हुं सिर्फ दिल बहलाने के लिए वर्ना
जिस पर प्यार का असर नही हुआ उस पर अल्फाजो का क्या असर होगा।।

 

तेरा हुआ ज़िक्र तो हम सजदे मे झुक गए
अब क्या फर्क पड़ता है मंदिर मे झुक गए या मस्जिद मे झुक गए।।

 

husband wife non veg shayari in hindi

पति – पत्नी में किसी बात पर झगड़ा हो रहा था
पत्नी की एक बात ने सारा विवाद ख़त्म कर दिया
तुम ठोकना चाहाते हो या जितना चाहते हो…😋

 

पति सुहागरात में अपनी पत्नी के आम चूस रहा था
और वह अपनी पत्नी से बोला तुम्हारे आम कितने नरम और गरम है
पत्नी शरमाते हुए बोली – पता नही जी जितने मुँह उतनी बातें…😞

 

लेडीज :- जज साहब मुझे अपने पुलिस वाले पति से
तलाक चाहिए
जज साहब :- क्यों तलाक चाहिए कोई कारण
लेडीज :- क्योंकि इस कानून वाले के सिर्फ हाथ ही लंबे है…😝

 

पत्नी :- खाना खाते-2 बोली इसमें डाल दो
पति :- खाना तो खा लेने दे ( हवस की पुजारिन )
पत्नी :- कमीने – में दाल मांग रही हूं…😅

 

पत्नी :- सुनो जी मुझे न एक अच्छी सी ब्रा लेनी है
पति :- क्या करोगी ब्रा लेके तुम्हारे इतने छोटे -2 है
पत्नी :- कल आपने अपने लिए कच्छा ख़रीदा मेने कुछ कहा

 

छोटा बच्चा :- तू चादरमोड़
उससे बड़ा बच्चा :- तू चदारमोड
पत्नी गुस्से में :- आप कुछ कहेंगे इनसे
पति :- बेटिचोदो वो मादरचोद होता है
पत्नी :- आप भी पुरे श्री वो हो वो बच्चे चादर मोड़ने की बात कर रहे है

 

नई जोड़ी की सुहागरात
पत्नी :- अजी सुनते हो मुझे घबराहट हो रही है
पति :- बोला आज आप की पहली रात है
पत्नी :- नही जी रात में पहली बार है इसलिए…😯

 

सुहागरात रात पर
पति ने अपने पत्नी को सुहागरात पर 25000 हजार रूपये दिए
तो पत्नी घबराते हुए बोली की पुरे खानदान को पेलोगे या मुझे…

 

holi non veg shayari

पड़ौसन 😍 के साथ होली खेलते वक्त ध्यान रखे..😳
वरना😥
बगैर रंग डाले
पत्नी आपका गाल 🔴 लाल 👋 सकती है…
जनहित में जारी…☺☺😂😂

 

गर्लफ्रेंड: रंग लगवाने का क्या लोगे ?
ब्वॉयफ्रेंड (शरारत से) : ज्यादा नहीं बस चार किस.
गर्लफ्रेंड: और अगर पानी भी डालूं तो ?
ब्वॉयफ्रेंड: बस 10 किस…
गर्लफ्रेंड (शैतानी से): आ जाओ दादी बाहर, लगा लो रंग अपने निकू को.

 

हेप्पी होली…💦💦
कृपया अपनी Girlfriend 💁♀️ को Safe रखें,
हादसा हो जायेगा अगर….
पता चला कि….😱
वो कीसी और की हो ली

 

गलियों में निकलो बना के टोली
हर लड़की की भीगा दो चोली
जो मुस्कुराये उसे बाहों में भर लो
वरना रंग लगाओ और कह दो

 

होली पर ‘बलम पिचकारी’
जैसा गाना देने के लिए
‘यह जवानी है दीवानी’
बनाने वालों को तहे-दिल से शुक्रिया।
वर्ना सालों से रंग बरसे सुन-सुन के
जीवन ही खत्म हो चला था।

 

आपने दिल का हाल बताना छोड़ दिया,
हमने भी गहराई में जाना छोड़ दिया..!!
अरे ये क्या ??
होली से पहले ही आपने नहाना छोड़ दिया!!

 

एक भयानक सत्य
सच्चा दोस्त कभी गद्दारी नहीं करता लेकिन,
होली के दिन अपनी औकात दिखा ही जाता है
इसलिए सतर्क रहें।😁😁😁😁

 

गलियों में निकलो बना के टोली
हर लड़की की भीगा दो चोली
जो मुस्कुराये उसे बाहों में भर लो
वरना रंग लगाओ और कह दो

 

non veg shayari for friends insult

सच्चा प्यार वो नहीं जिस में दिल टूट जाये,
सच्चा प्यार वो है जिस में पलंग टूट जाये।।

 

अरे हमे अपने लूटा, गैरों मे कहाँ दम था,
और ये हमारा दोस्त इतना बढ़िया है,
की हमे जब जब दी तब तब हमारा मन था।।

 

कोई भी आदमी छोटा या बड़ा नहीं होता,
आदमी का छोटा या बड़ा हो सकता है।।

 

चाहिए मुझे अब किसी का साथ,
क्यों कि अब थक चुका है मेरा हाथ।।

 

ब्रेकअप तो बस एक बहाना है,
उसे तो किसी और से ठुकवाना है।।

 

उड़ती हुई चील और टुटी हुई सील,
कभी आवाज़ नही करती।।

 

ख्वाबों को अपने हकीकत से मिलाता हूँ,
हाँ मैं हिलाता हुँ।।

 

अपनी जमीन छोड़ कर हमारी पर नजर रखी है
चला जा चाइना हमने अच्छे अच्छे की माँ चोद रखी है।

 

उसने कहा बड़ा मजा आताहै जब आंदर जाताहै
कनोमे एक वक लैब्स मेरे प्यार का।।

 

की तुम फिट हो जाओगे हमे यकीन दिलाना छोड़दो
सलो जिम बाद में करना पेहेले हपना सिख़लो।।

 

non veg love shayari

मुंह में लेना तुम्हे पसंद नहीं एक भी कतरा शराब का
तो फिर क्यों बोलती हो धीरे से डालो बालों में फूल गुलाब का।।

 

डब्बे में डब्बे डब्बे में केक
तू चुतिया हे मेरे दोस्त आइने में तो देख।।

 

सच्चे दोस्त ऐसे होने चाहिए
जो की बास्केट आनेपर या तो दिला दे या तो हिला दे।।

 

न चाहिए पैसा न चाहिए प्यार
बास चाहिए तो तेरे जीशा भोसडी वाला यार।।

 

जिंदगी में एक बार भरोसे का भोसड़ा जो जाए
तो हार भरोसे वाला भोसडी वाला लगता है।।

 

घरवाली की बहन को बोलते हे साली
जब दोस्त को देखता हूँ मुँह से निकले गली।।

 

निगाहों से निगाहें मिला कर तो देखो
कभी किसी लड़की को पटा कर तो देखो।।

 

हसरतें दिल में दबाने से क्या फ़ायदा
अपने हाथों से ज़रा दबा कर तो देखो।।

 

अगर यह ना कर सको तो हार मत मानना;
दो बूँदें तो ज़रूर गिरेंगी, यारो ज़रा अपने लंड को हिला कर तो देखो।।

 

रात होगी तो कंडोम भी दुहाई देगा
टांगो के बीच सारा जहां दिखाई देगा
ये काम है जानी, जरा संभलकर करना।।

 

दिल तोड़ने की सजा नहीं होती। दिल टूटने की कोई वजह नहीं होती;
माल बहुत मिलते है, मेरे दोस्त; बस उन्हें ठोकने के जगह नहीं मिलती।।

 

तुमने कहाँ हम याद नहीं आएँगे तुम्हें फिर
बताना ज़रा ये सुबह-सुबह हमारा ज़िक्र क्युँ बोलो।।

 

funny non veg shayari in hindi

हम उस बेवफा से दिल लगा बैठे,
खली फोकट अपनी सुकून की माँ-बहिन एक करवा बैठे,
वो तो चुप-चाप सो गई किसी के बिस्तर पे जाके,
हम [email protected] अपनी ही [email protected] में आग लगा बैठे।

 

तूफानों में छतरी नहीं खोली जाती,
[email protected] से पहले [email protected] नहीं खोली जाती,
वियाग्रा खाना शुरू कर दे मेरे दोस्त,
खाली ऊँगली और जुबान से लड़की नहीं Ch0di जाती।

 

क्यों मैं तुझे ऐसी दुआ दू के, मेरी उम्र तुम्हे लग जाये,
क्या पता आज ही मेरा आखरी दिन और और तेरे बिना बात के L0de लग जाये।

 

आज फिर उनका दिल दुख दिया हमने,
देकर Ice Cream का नाम अँधेरे में फिर से [email protected] चूसा दिया हमने……

 

Chuutt कब मिल जाये ऐतबार किसको है,
और मिल जाये किसी तो फिर इंकार किस को है,
होती होगी बहुत जी मुश्किलें Chuutt पाने में मेरे दोस्त,
वार्ना खली-फोकट हाथ से Muuth मारने से प्यार किसको है।

 

गली से जब उनकी गुज़रे तो, उनका चोबारा नज़र आया,
वाह वाह,
गली से जब उनकी गुज़रे तो, उनका चोबारा नज़र आया,
उसकी माँ खड़ी थी वहा पे और देख के मुझको बोली,
[email protected]@Nd फाड़ दूंगी Bh0sdike जो दुबारा नज़र आया।

 

वो हमारी कबर पे चले गए मूत के,
चलो इसी बहाने दर्शन हो गए Chuutt के,
हैरलेस थी उनकी चिकनी Chuutt,
लेकिन अब क्या फायदा जब हम बन गए भूत।

 

तन्हाई में भी हमे भी जीना आता है
सेक्स करके हमको भी पसीना आता है
एक हम ही है जो तुम्हे अक्सर मैसेज करते रहते हैं
और एक तुम्हारा मैसेज है, जैसे औरतों को महीना आता है

 

marathi non veg shayari

आम्ही त्या काफिराच्या प्रेमात पडलो,
खली फोकट तिच्या आई आणि बहिणीला शांततेत एकत्र आणण्यासाठी बसला.
ती शांतपणे झोपली आणि कोणाच्या तरी बेडवर गेली.
आम्ही [email protected] आमच्या स्वतःच्या [email protected] ला आग लावतो.

 

वादळात छत्री उघडत नाही,
[email protected] [email protected] च्या आधी उघडलेले नाही,
माझ्या मित्रा व्हायग्रा घेणे सुरू करा
मुलगी रिकाम्या बोटाने आणि जिभेने Ch0di ला जात नाही.

 

मी तुझी अशी प्रार्थना का करू, तू माझे वय घे.
तुला माहित आहे का, आज माझा शेवटचा दिवस आहे आणि
तुझ्याशिवाय बोलल्याशिवाय L0de घेतला जाईल.

 

आज आम्ही पुन्हा त्याचे मन दुखावले,
अंधारात पुन्हा आईस्क्रीमचे नाव देऊन आम्ही [email protected] चोखले……

 

जेव्हा मला चुट मिळते तेव्हा तिथे कोण असते?
आणि जर कोणाला ते मिळाले तर कोण नाकारत आहे,
चुट माझा मित्र मिळण्यात खूप अडचणी आल्या असतील,
मुथला खळी-फोकट हातांनी मारणे आवडते वर्ण.

 

रस्त्यावरून गेल्यावर त्याचा झगा दिसला,
व्वा,
रस्त्यावरून गेल्यावर त्याचा झगा दिसला,
त्याची आई तिथेच उभी होती आणि मला पाहून म्हणाली,
पुन्हा प्रकट झालेल्या [email protected]@Nd Bh0sdike फाडतील.

 

ते आमच्या कबरीत गेले
या बहाण्याने चुटाचे दर्शन घेऊया.
त्याची गुळगुळीत चुट केसहीन होती,
पण आता आपण भूत झालो तेव्हा काय उपयोग.

 

आपल्यालाही एकटेपणात जगावे लागते
सेक्स करूनही आपल्याला घाम येतो
फक्त आम्हीच तुम्हाला वारंवार मेसेज करत राहतो
आणि एक तुमचा मेसेज आहे, जसा महिलांचा महिना येतो

 

non veg gali shayari

आसमान पे फिर से काली घटा छाई है !
आज फिर घरवाली ने दो बात सुनाई है !
दिल तो बहुत करता है कि सुधर जाऊँ, मगर !
कमबख़्त बाजूवाली आज फिर से भीग कर आई है !!

 

क्या खूब फ़रमाया है गांडुचार्य ने……
“सपना” को सपने मे पेलकर “स्वपनदोष” हो गया !
“सपना” की भी बच गई और हमे भी “संतोष” हो गया !!

 

गां.ड के साथ अक्सर ये घटना घट जाती है !
वाह! वाह !
.
..

….
…..
गां.ड के साथ अक्सर ये घटना घट जाती है !
मुसीबत कोसों दूर होती है बहनचो.द गां.ड पहले ही फट जाती है !!

 

इतना मत पियो मयखाने में कि…
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
गां.ड फट जाये वापस घर जाने में !!

 

मेरे हैं सिर्फ दो ही टट्टे !
वाह वाह…
भोस.ड़ी के पहले सुन तो !
मेरे हैं सिर्फ दो ही टट्टे !
यार एक बार चूस के तो बता…
मीठे हैं की खट्टे है !!

 

मिली बहुत बड़ी सजा उनसे दिल लगाने की !
नज़र लग गयी हमारे प्यार को ज़माने की !
क़ब्र से निकले हुए दोनों हाथ बस यही कहते हैं…
“आरज़ू रह गयी उसकी चू.चियाँ दबाने की !!

 

निप्पल से टपक रहा उनके पसीना !
भीगी पड़ी गां.ड उनकी और पसीने से लथपथ सीना !
अब तुम्हीं बताओ ‘ग़ालिब !
इतनी गर्मी में कैसे ठोके कोई हसीना ?

 

गांडुचार्य ने माशूका को देखा और फ़रमाया…
सलवार के नीचे से पानी लाल आता है !
लगता है मेरी माशूका का भोस.ड़ा पान खाता है !!

 

non veg shayari in hindi for boyfriend

करके तुम मुझे मुझ पर एक मेहरबानी करना
मेरी चुत को रखना नये जैसी कभी ना पुरानी करना

 

रात में खुले आसमान के नीचे बिन कपड़ों के उसका गोरा बदन चमक रहा था
मुझे पहाड़ पर चढ़ने की जल्दी थी मैं गुफा में उसकी धीरे-धीरे कदम रख रहा था

 

ना आने दूँ घर में किसी को और छोड़ कर जाऊं तुझे कहीं ना मैं
करने के बाद शादी तुझे बिन कपड़ों के रखू पूरा एक महीना मैं

 

जैसे भरे हुए गिलास हो आम के जूस के
मजे आ गए मुझे होंठ उसके चूस के

 

मार मार के मैं तेरी पूरी सुजा दूँगा
तुझे तेरे पति से भी दुगुना मैं मज़ा दूँगा

 

खुश रहती है तब जब तेरे लंड के पास रहती है
मरवाने से पहले कहती है चुत मेरी उदास रहती है

 

उसकी जन्नत का पानी भी बड़ा मीठा था
मुझे प्यास जब जब लगती थी मै वही पीता था

 

कपड़े तो उतार दिये वो मगर फिर वही कतरा रही थी
उसे अपने देवर से मरवाने में शर्म आ रही थी

 

सौ घोड़े जितने मजे मैने अकेले दिये उसे
प्यास उसकी फिर भी ना बुझी तो ला मोटे मोटे केले दिये उसे

 

चीखे निकल रही थी जोरो से साली के मुह में कपड़ा ठूस दिया
वो ढाई घंटे मरवाने के बाद कहे तुमने कर मुझे खुश दिया

 

non veg shayari in hindi for friends

मै उसके ऊपर रातभर वो मेरे नीचे थी
चूत उसकी पड़ी मेरे लंड के पीछे थी

 

मत पूछो था क्यू मेरा
बस उसकी टांगो के नीचे था मुह मेरा

 

भाभी के थे छोटे मैने दबा दबा के मोटे किये है
पानी गिरता था दिन रात भाभी की जन्नत से मैन भर भर लौटे पीये है

 

2 बजते हि रात को कमरे मे आती मेरे भाभी थी
भाभी को खुश करने की सिर्फ मेरे पास चाबी थी

 

जितना मजा उपर है उससे ज्यादा मजा नीचे है
इतना कहकर वो सीधा नाड़ा अपना खींचे है

 

सोये संग किसी के भी उसकी प्यास तोह मैन हि बुझाता हूँ
पुरी रात लगा रहता हूँ भाभी की मार मार के सुजाता हूँ

 

रोटी बेले कम बेलन भाभी अपने नीचे डाले ज्यादा
ना जाने क्या चाहे भाभी भाभी का क्या है इरादा

 

पीता सिर्फ मैं हूँ बाकी को तरसाती है
चूत साली भाभी की अमृत बरसाती है

 

free non veg shayari in hindi

है बड़े रसीले अभी अभी मैंने जाने है
सब कुछ छोड़ कर मुझे अब होंठ तेरे खाने है

 

ये छोटा बन्दर मेरा आज कल मौज मस्ती में रहता है
दिन रात उसकी टांगो की बीच की बस्ती में रहता है

 

उसकी चाटने में जीभ से चाटने में
मजा जितना आता है अकेले उतना कहाँ आता है संग गैरों के बाँटने में

 

दबा दबा के हाथों से कर चेक लिए मैने
रसगुले दोनो भाभी के कल देख लिए मैने

 

दो बोल बोल के प्यार के
बरा पैंटी उतार के
मैने खूब चाटी उसकी
माखन मलाई मार के

 

बीवी के बाद साली थी
अपने लंद से चुत जिसकी मैने पाली थी

 

थोड़ी दांतो से काटी थी
उसने चुत मेरी चाटी थी
जब प्यास बुझी नहीं मेरी
उसने अपने यारो के संग बाँटी थी

 

मेरी चुत्त को वो अपने लंद से सींचा करता है
अपनी साडी भी मे नहीं उतारती वो अपने हाथों से खींचा करता है

 

जीभ लगा के जब जब उसने चुत्त मेरी एंठी थी
पुरी गरम हो गयी मे पानी से भीग गयी मेरी पेंटी थी

 

जब तक तु ना मारे मेरी नींद भी ना आती मुझे
चुत मेरी चीख चीख के बार बार बुलाती मुझे

 

non veg insult shayari in hindi

चुत्त मेरी है फेमस बोहोत जन्नत के नाम से
लड़के दबा दबा के खेले है मेरे दोनो आम से

 

लड़को ने अपने लंद से हम लड़कियों को पेल के
बोहोत ज्यादा भाव बढ़ा दिये सरसों के तेल के

 

मुझे बिन कपड़ो के देख जब खड़ा उसका होता है
बिल्कुल लोहे की रोड जैसा टाइट आठ इंच तक बमुझे
सका होता है

 

उसकी मीठी मीठी बातों में आ गयी थी में
करके घाघरा ऊंचा उसे अपनी चुत दिखा गयी थी में

 

वो बनाके घौड़ी मुझे झटके मारे जोर से
सारा मोहल्ला जाग जाए मेरी चीखो के शोर से

 

मुझे बनाके घौड़ी वो खुद बन जाता है घौड़ा
इसी बहाने चुत में मेरी वो अपना ठूस देता है लौड़ा

 

मलाई दार रबड़ी बरसाती मेरी चुत है
खाने के लिए लड़को को तरसाती मेरी चुत है

 

पहले थे छोटे छोटे अब आम मेरे सरेआम हो गये
लाइन इस क़दर लगने लगी है लड़को की
रास्ते मेरे खुद के घर के जाम हो गये

 

आधी रात को मुझे पेला गया
मेरी चुत में उसका केला गया
लेकर आयी थी मै उसे
वापिस घर वो अकेला गया

 

दबा दबा के मैने रसगुले भाभी के मोटे कर दिये
निकला जो दूध उनसे मैने लौटे भर लिए

 

non veg shayari for friend

दिन क्या दिखाए देखो मुझे भगवान ने
बिन कपड़ो के नहायी आज भाभी मेरे सामने

 

उसके साथ उसकी दो सहेलियाँ भी आयी थी
बारी बारी से मैने तीनो की बजायी थी

 

नीचे से अमृत की बरसात होती है जब भाभी मेरे साथ सोती है
चीखें निकल जाती है भाभी की हसीन बोहोत वो रात होती है

 

सांप की तरह उसके बदन से लिपट गया मैं
उसकी जन्नत का पानी पी घट घट गया मैं

 

पहले बाहों में जकड लिया गला शर्म का घोट उसे
फिर उतार के कपडे दबाए खूब दोनों बाद में उसके होंठ चूसे

 

कल रात उसके साथ सोना बहुत महंगा पड़ा मुझे
सुबह होते हि दिलाना उसे नया लहंगा पड़ा मुझे

 

सर्दी में भी गर्मी का एहसास दिलाती है वो
कभी मुँह में लेती है कभी हाथों से हिलाती है वो

 

तारे गिन गिन कर भी अपनी रात गुजारती है वो
जब कोई नहीं मिलता तो लेकर बैंगन
खुद की खुद ही मारती है वो

 

रात को उसके बेडरूम में मैं नहीं कोई और गया था
मुझे खिला दी नींद की गोली मैं तो पहले ही सो गया था

 

मेरी बाहों में आने के बाद शर्म आ रही है
दोनों बूब्स दबा दिए थे मैंने उसके
बदले में वो मेरे होंठ खा रही है

 

full non veg shayari

बहुत हुई लड़ाई थोड़ा रोमांस करते हैं
उतार दे अब अपने कपड़े तू भी
साथ में हम दोनों अब नंगा डांस करते हैं

 

करीब अपने आने दो ना मुझे अपने बूब्स को दबाने दो ना
होंठ है रसीले तेरे भूख लगी है खाने दो ना

 

उसकी चडी भी पूरी पानी से भीगने लगती है
मैं अंदर तक डाल देता हूं पूरा और वो कुछ ही देर में चीखने लगती है

 

ये राज है फिर भी तुम्हें बताता हूं मैं
ये जो बंदर मेरा इतना सख्त खड़ा होता है इसकी दवा खाता हूं मैं

 

डलते ही अंदर गुफा रस से भर लेती है
आते ही बेंगन हाथ में वो टांगे चौड़ी कर लेती है

 

सब्जी बनने से पहले अंदर उसकी जन्नत के घुस गया
हो गया बेंगन मीठा पूरा उसकी जन्नत का रस चूस गया

 

सूखा नहीं अभी भी गीला गीला सा है
पीकर रस उसकी जन्नत का बेंगन खिला खिला सा है

 

रोज रात में बेंगन को अपनी जन्नत में वो भरत है
करें बेंगन से प्यार वो सब्जी से बेंगन की करें नफ़रत है

 

प्यास कुंवारी उस छोरी की बेंगन ने ही बुझाई थी
फिर भी काट काट कर उस बेंगन को सब्जी उसने बनायीं थी

 

होकर नंगी फिर वो उलटी बिस्तर पे अपने लेट गई
लेकर मोटा बेंगन वो अपनी टांगो के बीच वाले गेट गई

 

काफी देर तक डाल नीचे वो फिर डाले ऊपर है
कहती है है बेंगन बड़े काम का बेंगन की पावर सुपर है

 

नीचे एक बार डाला था अब रोज काम आता है
सोते हुए भी जुबान पर उसकी नाम बेंगन का आता है

 

non veg 2 line shayari

लैला की शादी में एक लफड़ा हो गया,
मजनू इतना नाचा कि लँगड़ा हो गया।

 

जिनको हम चुनते हैं, वो ही हमें धुनते हैं,
चाहे बीवी हो या नेता, दोनों कहाँ सुनते हैं!!

 

दिल में कोई गम नहीं बातों में कोई दम नहीं,
ये ग्रुप है नवाबो का यहाँ कोई किसीसे कम नहीं।

 

नोटबंदी का एक ये भी असर नजर आया,
वो बेवफा फिर से मेरे दर पे नजर आया

 

LATEST IMAGES और SHAYARI पाने के लिए हमारे FACEBOOK PAGE को LIKE करे. अगर आपको Non Veg Shayari | Naughty shayari | नॉन वेज शायरी पसंद आये तो इसे अपनी प्रियजनों को शेयर करे. और हमें COMMENT BOX में COMMENT करके.

Leave a Comment